Modi के भाषण देते समय उन्हें एकटक क्यों देख रही थीं Giorgia Meloni?, Melody फिर से दुनियाभर में ट्रेंड क्यों कर रहा है?

ram

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इटली के बारी में आयोजित जी-7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लिया और अपने संबोधन के माध्यम से दुनिया को कई अहम संदेश भी दिये। देखा जाये तो दुनिया के शक्तिशाली राष्ट्राध्यक्षों की उपस्थिति वाले इस शिखर सम्मेलन में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई लेकिन सबकी निगाहें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इटली की प्रधानमंत्री जॉर्जिया मेलोनी की मुलाकात पर टिकी हुई थीं।

जॉर्जिया ने इस बार जी-7 शिखर सम्मेलन में आये मेहमानों का जब नमस्ते कर अभिवादन किया तो सोशल मीडिया पर चर्चा होने लगी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मित्रता के चलते अब वह भारतीय संस्कारों को भी अपना रही हैं। मोदी इटली पहुँचे तो जॉर्जिया ने जिस गर्मजोशी के साथ उनका स्वागत किया वह देखने लायक था। जी-7 शिखर सम्मेलन की कवरेज के लिए इटली पहुँचे दुनिया के तमाम कैमरामैनों के लैंस उस मुलाकात का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे जिस पर दुनिया की नजरें टिकी हुईं थीं और आखिरकार वह पल आ गया जब मोदी और जॉर्जिया की मुलाकात हुई।

जी-7 शिखर सम्मेलन में नेताओं के संबोधन इस समय दुनिया भर में चर्चा का विषय भले नहीं बने हों लेकिन मोदी-मेलोनी यानि मेलोडी की मुलाकात के वीडियो लोग बार-बार प्ले कर देख रहे हैं। लोग देख रहे हैं कि जब मोदी भाषण दे रहे थे तब मेलोनी उन्हें एकटक देखे जा रही थीं। लोग देख रहे हैं कि कैसे मेलोनी मौका पाकर मोदी के साथ मुस्कुराते हुए सेल्फी ले रही थीं। सोशल मीडिया पर लोग मेलोडी की दोस्ती को तमाम तरह के नाम दे रहे हैं। हम आपको यह भी बता दें कि हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनावों में मोदी की जीत के बाद उन्हें सबसे पहले बधाई देने वाले विदेशी नेताओं में मेलोनी शामिल थीं। मोदी-मेलोनी मुलाकात के बाद से मेलोडी शब्द दुनियाभर में टॉप ट्रेंड में बना हुआ है।

मोदी-मेलोनी मुलाकात

जहां तक मोदी और मेलोनी की मुलाकात की बात है तो आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी इतालवी समकक्ष जॉर्जिया मेलोनी ने इस दौरान द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी की प्रगति की समीक्षा की और भारत-पश्चिम एशिया-यूरोप आर्थिक गलियारे सहित वैश्विक मंचों तथा बहुपक्षीय प्रस्तावों में सहयोग को मजबूत करने पर सहमति व्यक्त की। हम आपको बता दें कि मोदी की दक्षिणी इटली के अपुलिया की एक दिवसीय यात्रा के अंत में शुक्रवार को दोनों नेताओं के बीच मुलाकात हुई। इस दौरान मोदी ने जी-7 शिखर सम्मेलन में आमंत्रित करने के लिए इटली की प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया। विदेश मंत्रालय ने बैठक के बारे में जारी विज्ञप्ति में कहा कि नेताओं ने खुले एवं मुक्त हिंद-प्रशांत क्षेत्र के लिए अपने साझा दृष्टिकोण को पूरा करने की प्रतिबद्धता जताई तथा भारत-पश्चिम एशिया-यूरोप आर्थिक गलियारे पर भी चर्चा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *